चोरी का आरोप लगने के बाद इस भारतीय क्रिकेटर ने BCCI से लगाई मदद की गुहार

शेयर करें

नई दिल्ली। भारत के लिए वनडे व टी20 मुकाबले खेल चुके जम्मू-कश्मीर के स्पिन आलराउंडर परवेज रसूल ने अपने उपर चोरी का आरोप लगाए जाने के बाद बीसीसीआइ से मदद करने की अपील की है। परवेज रसूल को जम्मू-कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन की तरफ से एक नोटिस भेजा गया था, जिसमें कहा गया था कि वो संघ के पिच रोलर को एक सप्ताह के अंदर लौटा दें नहीं तो उन पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। परवेज ने अपने उपर लगाए गए इस आरोप को गलत करार दिया और भारतीय क्रिकेट बोर्ड से आग्रह किया है कि, वो इस मामले में दखल दें।

परवेज रसूल ने अपने उपर लगाए गए आरोपों को निराधार बताते हुए कहा कि, मुझे ऐसा लगता है कि बीसीसीआइ को अब इस मामले में हस्तक्षेप करना चाहिए। आप मेरे काम को देखिए कि किस तरह से मैं जम्मू-कश्मीर क्रिकेट को प्रमोट करने में लगा हूं। मैंने अपने खर्चे से मैदान बनवाया और यहां पर जो भी रोज के खर्चे होते हैं मैं उसे खुद उठा रहा हूं। मैं खिलाड़ियों की मदद करता हूं और इसके लिए कोई पैसे नहीं लेता। पिच रोलर कोई टेनिस बाल तो है नहीं जिसे में अपनी जेब में छुपा लूंगा।

ये मैदान पर इस्तेमाल के लिए है और क्रिकेट को आगे ले जाने के लिए है। मुझे नहीं पता है कि, ये सारी चीजें क्यों हो रही हैं। मुझे फिर से दूसरा नोटिस भेजा गया है जिसमें मुझे याद कराया गया है कि, आपको 5 जुलाई को इस संबंध में पहले ही नोटिस भेजा जा चुका है। परवेज रसूल ने इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए कहा कि, मुझे पांच जुलाई को किसी भी तरह का कोई नोटिस प्राप्त नहीं हुआ है जबकि संघ के अधिकारियों का कहना है कि इससे लिए उन्हें ई-मेल किया गया था। आपको बता दें कि, परवेज रसूल ने भारत के लिए एक वनडे और एक टी20 मैच खेला था। इसके बाद से उन्हें फिर से टीम इंडिया में खेलने का मौका अब तक नहीं मिला है।