शरीर में दिखाई दे ये लक्षण तो हो जाएं सतर्क, किडनी में खराबी के होते हैं संकेत

शेयर करें

हेल्थ डेस्क। दुनियाभर में लाखों की तादाद में ऐसे लोग हैं जो किडनी से संबधित समस्‍याओं से जूझ रहे हैं और उन्‍हें इसकी जानकारी तक नही है| दरअसल, कई बार हमें किडनी की समस्‍याओं के लक्षण तो दिखते हैं लेकिन जानकारी के अभाव में हम इसे पहचान नहीं पाते| कई लोग तो इन लक्षणों को किसी अन्‍य समस्‍या की वजह समझकर गलत इलाज भी करने लगते हैं| लेकिन सही समय पर इलाज ना होने की वजह से आगे चलकर किडनी फेल होने की भी आशंका बन जाती है|

किडनी की परेशानी होने पर यूरिन उत्पादन कम हो सकता है या आपको ज्यादा बार पेशाब करने की जरूरत महसूस हो सकती है, खासकर रात में। आमतौर पर दिन में 8-10 बार पेशाब आना स्‍वाभाविक है लेकिन इससे ज्यादा पेशाब का आना किडनी खराब होने का संकेत हो सकता है| कई बार पेशाब में जलन और खून आने की भी परेशानी का सामना करना पड़ता है| यह एक चेतावनी संकेत हो सकता है क्योंकि यह इंगित करता है कि किडनी के फिल्टर क्षतिग्रस्त हो गए हैं। कभी-कभी यह पुरुषों में कुछ मूत्र संक्रमण या बढ़े हुए प्रोस्टेट का संकेत भी हो सकता है।

किडनी में खराबी आने पर भूख में कमी आने लगती है| यही नहीं, मरीज का तेजी से वजन कम होने लगता है| इस परेशानी की वजह से मरीज को हमेशा पेट भरा हुआ महसूस होता है|

हेल्दी किडनी आपके शरीर से अपशिष्ट और अतिरिक्त तरल पदार्थ को हटाते हैं, और रेड ब्लड सेल्स को बनाने में मदद करते हैं जो हड्डियों को मजबूत रखने के अलावा आपके ब्लड में मिनरल की सही मात्रा को बनाए रखते हैं। सूखी और खुजली वाली स्किन किडनी की बीमारी का संकेत हो सकती है।

अगर आपको कमजोरी महसूस हो रही है, चक्‍कर आ रहा है, थकान रहती है तो ये भी किडनी की समस्‍या का लक्षण हो सकता है| यह काफी हद तक ब्लड में टॉक्सिन और अशुद्धियों के निर्माण के कारण होता है, जो किडनी के खराब काम के परिणामस्वरूप होता है। ऐसे में एनिमिया की समस्‍या भी हो सकती है|

किडनी बॉडी से अतिरिक्त सोडियम को फिल्टर करने में मदद करती है| किडनी में खराबी होने पर बॉडी में सोडियम जमा होने लगता है जिससे पैरों, चेहरे और एड़ी में सूजन हो सकती है। इन टॉक्सिन का असर आंखों और चेहरे पर भी दिखता है, लेकिन ज्यादा असर पैरों पर होता है|

पेशाब में ज्यादा झाग आना प्रोटीन होने की ओर इशारा करता है। कभी-कभी जब किडनी के फिल्टर खराब हो जाते हैं, तो ब्लड कोशिकाएं यूरिन में रिसने लगती हैं। इसके साथ बुखार या ठंड लगने के साथ पेशाब से जुड़ा मवाद गंभीर हो सकता है। अगर आपके पेशाब में खून आ रहा है तो ये किडनी स्‍टोन, किडनी में ट्यूमर, किडनी में इंफेक्‍शन की वजह से हो सकता है|

You cannot copy content of this page