सालगिरह पर महिला ने लगाई फांसी: 4 साल पहले हुई थी शादी, रिटायर्ड डिप्टी कलेक्टर सहित चार गिरफ्तार

शेयर करें

बिलासपुर। ससुरालवालों की प्रताड़ना से तंग आकर शादी की सालगिरह के दिन ही एक महिला ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। महज 4 माह पहले ही महिला की शादी बैंक मैनेजर के साथ हुई थी। मायके वालों की शिकायत पर पुलिस ने रिटायर्ड डिप्टी कलेक्टर ससुर जीआर महिलाने, बैंक मैनेजर पति रविकांत, टीचर ननंद सुप्रिया तथा अनु महिलाने कुल चार लोंगो को पुलिस ने कर इनके खिलाफ दहेज हत्या का मामला दर्ज किया है। मामला सरकंडा थाना क्षेत्र का है।

मिली जानकारी के अनुसार बेटी की मौत की खबर मिलते जांजगीर जिले के पामगढ़ से बिलासपुर पहुंचे हेडमास्टर राजकुमार जांगड़े ने पुलिस को बताया कि उनकी दो बेटी और दो बेटे हैं, जिनमें दूसरे नंबर की बेटी युक्तिरानी थी। वह इंजीनियर थीं। उन्होंने उसकी शादी यदुनंदननगर निवासी रिटायर्ड डिप्टीकलेक्टर जीआर महिलाने के बेटे रविकांत से 24 जनवरी 2019 को सामाजिक रीति रिवाज के साथ किया था। उन्होंने बेटी की शादी में अपनी हैसियत के हिसाब से दहेज में बाइक, गहने और नगदी पैसे सहित सबकुछ दिया था। लेकिन शादी के बाद उसका पति और ससुरालवाले उसे दहेज के नाम पर शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित करते थे, जिनकी प्रताड़ना से तंग आकर उनकी बेटी युक्तिरानी ने सोमवार की रात फांसी लगाकर खुदकुशी करने के लिए मजबूर हो गई। लड़की के भाई आकाश जांगड़े ने बताया कि युक्तिरानी की 24 जनवरी को शादी की सालगिरह थी। एक दिन पहले ही वह अपनी बहन को लेने आने के लिए प्लान बनाया था। मंगलवार को शादी की सालगिरह पर वह अपनी बहन से मिलकर सरप्राइज देना चाहता था। लेकिन, उसे क्या पता था कि जिस दिन बहन की शादी थी, उसी दिन उसकी मौत की खबर आ जाएगी।

दीदी मेरी बेटी को अपनी बेटी की तरह रखना

पुलिस ने युक्तिरानी के पास से सुसाइड नोट भी बरामद किया है, जिसमें उसने अपनी बड़ी बहन नीलू रानी से कहा है कि मेरी बेटी को अपनी बेटी की तरह रखना और प्यार करना। मेरे बारे में उसे बताना कि अच्छी मम्मा थी, आगे लिखा है कि आई लव यू सबको, पामा-मम्मी, पप्पू भाई अन्नू, बंटू भाई तुम सब खुश रहना। मुझे हमेशा याद करना, सबको मैं बहुत प्यार करती हूं। जो होता है, अच्छे के लिए होता है, सब सक्सेसफूल रहना, मेरी दुआ तुम्हारे साथ है।

You cannot copy content of this page