शर्मनाक मामलाः पत्नी की मौत के बाद बेटी को बनाया हवस का शिकार, प्रेग्नेंट हुई तो किया ये खौफनाक कांड

शेयर करें

बगहा। बिहार के पश्चिमी चम्पारण जिले के बगहा इलाके से रिश्ते को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। यहां कलयुगी पिता ने अपनी ही बेटी के साथ जो घिनौनी हरकत की है, उसने पिता-पुत्री के पवित्र बंधन को तार तार कर दिया। दरअसल पिता ने पहले बेटी का जबरदस्ती कई महीनों तक रेप किया। जब वह प्रेग्नेंट हो गई तो उसकी जान लेने की कोशिश की। हालांकि अपने इस नापाक इरादे में सफल नहीं हो पाया तो जख्मी हालत में बेटी को छोड़कर हुआ फरार। पीड़िता ने नगर पुलिस में पिता के खिलाफ दर्ज कराई रिपोर्ट।

बेटी के साथ शर्मनाक हरकत कर किया प्रग्नेंट

रिश्ते को शर्मसार करने वाला पूरा मामला नगर क्षेत्र का है। यहां घर में एक ही कमरा होने के कारण पिता पुत्री एक ही बिस्तर पर सोते थे। इसी बात का फायदा उठाते हुए कलयुगी पिता ने कई बार अपनी ही बेटी का रेप किया। जब भी पीड़ित बेटी अपने साथ हो रहे इस अत्याचार का विरोध करती तो वह उसे जान से मारने की धमकी देने लगता। बेटी लोक लाज के चलते अपने साथ हो रहे अत्याचार को किसी से बता भी नहीं पा रही थी। हवस का शिकार होते होते बेटी प्रेंग्नेंट हो गई।

 गर्भवती होने का पता चलते बनाया खतरनाक प्लान

जैसे ही इस कलयुगी पिता को अपनी बेटी के प्रेग्नेंट होने का पता चला तो वह उसे कुछ महीनों तक मामले को दबाए रखा लेकिन जैसे ही बेटी की प्रेगनेंसी 6 महीने की हुई तो आरोपी पीड़िता को वाल्मिकी नगर में त्रिवेणी का स्नान कराने का बोल ले गया और वहां नदी में डुबा कर मारने की कोशिश की, लेकिन बेटी ने किसी तरह से अपनी जान बचाई। इस दौरान वह गंभीर रूप से चोटिल हो गई। अपनी प्लानिंग विफल होते देख आरोपी पिता बेटी को लहुलुहान हालत में वहीं छोड़कर फरार हो गया। पीड़िता किसी तरह वाल्मिकी नगर में रहने वाली अपनी मौसी के घर पहुंची और पूरी आपबीती सुनाई। पीड़िता की बात सुनते ही परिजनों के पैरौं तले जमीन खिसक गई। फिर होश संभालते हुए पुलिस में जाकर सोमवार की रात को शिकायत दर्ज कराई।

बेटी की जिम्मेदारी चाची ने ली तो भड़क गया था पिता

पुलिस में शिकायत के दौरान पीड़िता ने बताया कि उसके पिता की शादी 1990 में हुई थी। शादी के बाद मेरी और उसके बाद मेरे छोटे भाई का जन्म हुआ। सबकुछ ठीकठाक चल रहा था। लेकिन 10 साल बाद मां की मौत हो गई। तो बेटी की उम्र कम होने के कारण चाची की देखरेख में रखने का फैसला किया। यह बात सुनते ही वह भड़क गया और बेटी को अपने साथ ले गया। घर लाने के कुछ दिनों बाद से ही पिता ने अपनी शर्मनाक हरकते शुरू कर दी।

परिजन ने कराया इलाज, पुलिस ने शुरू की आरोपी की तलाश

पुलिस में शिकायत करने के बाद परिजन बेटी को दिखाने के लिए अनुमंडलीय अस्पताल में पहुंचे। यहां प्राथमिक उपचार करने के बाद पीड़िता की हालत को देखते हुए बेतिया के जीएमसीएच हॉस्पिटल के लिए रेफर कर दिया गया। जहां उसका इलाज जारी है। वहीं पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर आरोपी पिता की तलाश शुरू कर दी।

You cannot copy content of this page